• Newziya

हाथ को मिला स्टालिन का साथ

भारतीय जनता पार्टी और एआईएडीएमके के गठबंधन करने के एक दिन बाद ही आज कांग्रेस और डीएमके ने भी अपने गठबंधन की घोषणा कर दी है. इस गठबंधन की सुगबुगाहट पहले ही चल रही थी लेकिन इस पर अंतिम मुहर डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन ने आज चेन्नई में लगा दी. एमके स्टालिन ने गठबंधन की घोषणा की.


DMK और कांग्रेस के चुनाव चिन्ह


डीएमके कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी इसका ऐलान तो नहीं किया लेकिन उन्होंने बताया कि कांग्रेस तमिलनाडु में 9 सीटों पर और पुडुचेरी में एक सीट पर चुनाव लड़ेगी. गौरतलब है कि पुडुचेरी की इकलौती सीट पर कांग्रेस का ही दावा था. स्टालिन ने कहा कि "जो भी लोकसभाएं कांंग्रेस को दी जाएंगी वह गठबंधन के सदस्यों की सहमति से ही दी जाएंगी." इस बार लोकसभा चुनाव में कांग्रेस और डीएमके का साथ आना दोनों दलों के लिए ज़रूरी था क्योंकि 2014 में दोनों पार्टियां अपने दम पर लड़ीं थीं और इन्हें एक भी सीट नहीं मिली थी. हालांकि डीएमके को 23.6 फीसदी वोट और कांग्रेस को 4.3 फीसदी ज़रूर मिले थे.


©Newziya 2019, New Delhi.