• Newziya

ABVP के शोध कार्यकर्ताओं के प्रतिनिधिमंडल ने DU कुलपति प्रो योगेश त्यागी से मिलकर ज्ञापन सौंपा

Updated: Apr 6, 2019

आनन्द श्रीवास्तव (DU Inputs)


अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के एक शोध छात्रों के प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को दिल्ली विश्वविद्यालय के उप-कुलपति प्रो.योगेश त्यागी से मुलाकात की । प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने दिल्ली विश्वविद्यालय के शोधछात्रों के समक्ष दिन-प्रतिदिन होने वाली अनेक समस्याओं को गिनाते हुए कुलपति प्रो योगेश त्यागी को एक ज्ञापन सौंपा । प्रतिनिधि मंडल ने निम्न महत्वपूर्ण माँगो को रखा:


1. लिंगदोह कमेटी के नियमानुसार दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रत्येक छात्र को छात्रसंघ चुनाव में मतदान का अधिकार है, परंतु दिल्ली विश्विद्यालय में शोध छात्रों को यह अधिकार नहीं है, केवल एकमात्र सामाजिक कार्य विभाग के एम.फिल के शोधछात्रों को ये अधिकार है, इस दोहरे मापदंड को समाप्त करते हुए सभी विभागों के शोधकर्ताओं को छात्रसंघ में मतदान करने का अधिकार मिले ।


2. दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन शोध छात्रों के सम्बंध में समय सीमा तय करे, जिसके अनुसार उनका एडमिशन, BRS, DRC, कोर्सवर्क, शोधकार्य जमा होने, शोधकार्य का परिणाम,और उपाधि प्रदान करना आदि की एक निर्धारित समय-सीमा तय हो।


3. विज्ञान के शोधछात्रों को दिल्ली विश्वविद्यालय के विश्वविद्यालय विज्ञान उपकरण केंद्र (USIC) में शोध-यंत्रो के प्रयोग में हो रही परेशानी के बारे में अवगत कराया।


4. अन्य विश्वविद्यालय के तर्ज पर दिल्ली विश्वविद्यालय में भी विज्ञान, कला एवं सामाजिक विज्ञान के विषयों के अपने रिसर्च जर्नल्स का प्रकाशन शुरू किया जाए, जिससे की शोधार्थी को अपने शोधकार्यों के प्रकाशन की सुविधा मिल सके।


5.दिल्ली विश्वविद्यालय में पहले कई विषयों के अंतरराष्ट्रीय जर्नल्स उपलब्ध होते थे, अब काफ़ी समय से उनका सब्सक्रिप्शन नही किये जाने से वह बंद हो गए है, जिसके कारण से शोधार्थियों को अपने शोधकार्यों में असुविधा हो रही है ।


6. दिल्ली विश्वविद्यालय में ऐसे शोध छात्रों की संख्या अधिक है जिन्हें नॉन-नेट फेलोशिप मिलती है, जिस तरह JRF, SRF फेलोशिप की धनराशि बढ़ाई गई है उसी तर्ज़ पर नॉन-नेट फेलोशिप की धनराशि भी बढ़ाई जाए और समय अनुसार मिले ।


7. दिल्ली विश्वविद्यालय में पूर्व में मिल रहे शोध एवं विकास (R&D) अनुदान को बंद कर दिया गया है, इसको तुरंत ही शुरू करने की भी माँग की जिससे शोध कर रहे अध्यापकों एवं शोधार्थियों को संसाधनों की कमी का सामना ना करना पड़े।


8. शोध छात्रों के लिए पुस्तकालयों में 24×7 रीडिंग हॉल की वसुविधा उपलब्ध कराई जाए।


दिल्ली विश्वविद्यालय कुलपति ने इन सभी समस्याओं को एक सप्ताह में दूर करने का आश्वासन प्रतिनिधि मंडल को दिया है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के चार सदस्यों के प्रतिनिधि मंडल में दिल्ली प्रान्त शोधकार्य संयोजक अभिषेक वर्मा, प्रसन्ना वैद्य, प्रवीण अधाना एवं शिवम शर्मा शामिल थे।

प्रतिनिधिमंडल ने दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन को एक सप्ताह में इन मुद्दों पर उचित कार्यवाही ना करने पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद व दिल्ली विश्वविद्यालय शोध छात्रों द्वारा विरोध-प्रदर्शन की चेतावनी दी है।

©Newziya 2019, New Delhi.