• Newziya

गरीबों को मुफ़्त सब्ज़ी बांट रहे हैं बलिया के नावका गांव के शिक्षक

Updated: Apr 27

'कोरोना जैसी महामारी से निपटने और लोगों को बचाने के लिए यह ज़रूरी नहीं है कि आपके पास पैसा हो तभी आप दूसरों की मदद कर सकते हैं।'- गुप्तेश्वर सिंह

अपने खेत में मौजूद गुप्तेश्वर सिंह

बलिया: बैरिया ब्लॉक के नावका गांव निवासी गुप्तेश्वर सिंह पेशे से शिक्षक हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान विद्यालय बंद होने पर गुप्तेश्वर सिंह अपना समय अपने खेतों में ख़र्च कर रहे हैं। कोरोना महामारी के कारण पूरे देश में लॉकडाउन लगाया गया है। ऐसे में मज़दूरों और रोज़ मेहनत कर कमाने-खाने वालों के सामने भुखमरी जैसे हालात पैदा हो गए हैं। सरकार अपनी तरफ से गरीबों को राशन मुहैया कराने के सारे उपाय कर रही है। इस गंभीर परिस्थिति में समाज के जागरूक लोग भी अपनी भूमिका निभाने से पीछे नहीं हट रहे हैं।


ठेले पर सब्ज़ी ले जाते प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक गुप्तेश्वर सिंह

इसी कड़ी में गुप्तेश्वर सिंह भी अपने खेत से सब्ज़ियां तोड़ कर गरीबों को मुफ्त में बांट रहे हैं।

गुप्तेश्वर सिंह का कहना है कि, 'कोरोना जैसी महामारी से निपटने और लोगों को बचाने के लिए यह आवश्यक नहीं है कि आपके पैसा हो तभी आप दूसरों की मदद कर सकते हैं। आपके मन में दूसरों की सेवा करने की सिर्फ़ भावना होना ही काफ़ी है। हम अपने मन में नर सेवा नारायण सेवा की भावना लेकर कोरोना को हरा सकते हैं। जो लोग असहाय और लाचार हैं उन तक सब्ज़ी पहुंचाना मेरा धर्म है यही मानवता है।'

#freevegies #gupteshwarsingh #गुप्तेश्वर सिंह #मुफ्त सब्जी #coronavirus #corona #कोरोना

©Newziya 2019, New Delhi.