• Vishwajeet Maurya

मोदी 2.0 : जानिये पहले मालदीव दौरे पर क्या होगा ख़ास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 2 दिन के मालदीव दौरे पर जा रहे हैं। इस दौरान उन्हें वहां मालदीव के सबसे बड़े सम्मान निशान इज्जुद्दीन से नवाजा जाएगा। ये विदेश गणमान्यों को दिया जाने वाला सबसे बड़ा सम्मान है।


अपनी मालदीव यात्रा से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि शनिवार से शुरू हो रही मालदीव और श्रीलंका की उनकी यात्रा से भारत द्वारा ‘पड़ोस पहले’ नीति को दिया जाने वाला महत्व प्रतिबिंबित होता है और इससे समुद्र से घिरे दोनों देशों के साथ द्विपक्षीय संबंध और मजबूत होंगे. पीएम मोदी लोकसभा चुनाव में जीतकर दोबारा सत्ता में आने के बाद अपनी पहली द्विपक्षीय यात्रा के तहत सबसे पहले मालदीव जाएंगे. प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मैं इसको लेकर आश्वस्त हूं कि मालदीव और श्रीलंका की मेरी यात्रा से हमारी ‘पड़ोस पहले नीति’ और क्षेत्र में सभी के लिए सुरक्षा एवं प्रगति की दृष्टि के अनुरूप हमारे समुद्री पड़ोसी देशों के साथ हमारे नजदीकी एवं सौहार्दपूर्ण संबंध और मजबूत होंगे.’ ऐसी जानकारी मिली है कि मालदीव मोदी को एक प्रतिष्ठित पुरस्कार ‘निशान इज्जुदीन’ से सम्मानित करेगा.


प्रधानमंत्री मोदी मालदीव को कई तरह की सौगातें देंगे। जिसमें फेरी सेवाओं से लेकर बंदगाह और नए क्रिकेट स्टेडियम का तोहफा होगा। प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को मालदीव की संसद को भी संबोधित करेंगे, वहीं पीएम के संबोधन के लिए बाकायदा एक प्रस्ताव भी संसद में पास कराया है। इसके अलावा पीएम मोदी मालदीव में दो नए प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास भी करेंगे। जिसमें एक होगा कोस्टल रडार प्रोजेक्ट और दूसरा होगा द्वीप समूह के डिफेंस फोर्सेज के लिए ट्रेनिंग सेंटर का शिलान्यास। आपको बता दें, कि 2014 में पहली बार पीएम बनने के बाद प्रधानमंत्री मोदी सबसे पहले भूटान के दौरे पर गए थे। इसके बाद मोदी ने सभी दक्षिण एशियाई देशों का दौरा किया था, जिसमें मालदीव भी शामिल था। पीएम मोदी पिछली बार नवंबर 2018 में भी मालदीव के दौरे पर गए थे।


-Govind Pratap Singh

0 views

©Newziya 2019, New Delhi.