• Newziya

GDP India: ‘मोदी सरकार के आर्थिक विकास के दावे झूठे’

नई दिल्ली: आर्थिक मोर्चे पर मोदी सरकार को एक बार फिर जोरदार झटका लगा है. 2019-20 के चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में भारत की विकास दर में बड़ी गिरावट आई है. GDP का आंकड़ा 4.5 फीसदी पहुंच गया है. विकास दर में गिरावट के बाद विपक्ष को सरकार पर सीध्वी प्रज्ञा के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या पर बयान के बाद हमला करने का एक और मौका मिल गया. कांग्रेस ने विकास दर के मुद्दे पर मोदी सरकार को आर्थिक नाकामी के लिए घेरा.



इसी कड़ी में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की दर गिरकर 4.5 प्रतिशत तक आने के लिए केंद्र को जिम्मेदार बताया. साथ ही आरोप लगाया कि इससे साफ़ हो गया है कि सरकार आर्थिक विकास के झूठे दावे कर रही है.


प्रियंका गांधी ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि सरकार देश में बेरोजगारी को कम करने में असफल रही है. उसने किसानों से जो वादा किया था उसको नहीं निभा पायी है और देश की अर्थव्यस्था को अपनी नाकामी के कारण बर्बाद कर दिया है.

उन्होने कहा - ‘’वादा तेरा वादा...

दो करोड़ रोजगार हर साल,

फसल का दोगुना दाम,

अच्छे दिन आएँगे,

मेक इन इंडिया होगा,

अर्थव्यवस्था पांच ट्रिलियन होगी..

क्या किसी वादे पर हिसाब मिलेगा.’’

“आज GDP Growth 4.5% आई है. जो दिखाता है सारे वादे झूठे हैं...और तरक्की की चाह रखने वाले भारत और उसकी अर्थव्यवस्था को भाजपा सरकार ने अपनी नाकामी के चलते बर्बाद कर दिया है.”

©Newziya 2019, New Delhi.