• Newziya

जेएनयू में 14 मार्च 2019 होगा वीर सावरकर के जीवन पर नाटक का मंचन


Reference Image

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जेएनयू इकाई और स्वातंत्र्यवीर सावरकर राष्ट्रीय स्मारक मुम्बई के सँयुक्त तत्वावधान में 14 मार्च 2019 को शाम 4 बजे जेएनयू के कन्वेंशन सेंटर में वीर सावरकर पर एक नाटक प्रस्तुति का आयोजन किया है। इस नाटक के दौरान वीर सावरकर जी के पौत्र श्री रंजीत सावरकर जी की विशेष उपस्थिति रहेगी । यह प्रस्तुति अंग्रेज़ी शासन के दौरान राष्ट्रवादियों के दमन प्रक्रिया पर आधारित है। वीर सावरकर, एक महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी जो अंग्रेज़ी हुकूमत द्वारा कल पानी की सज़ा क़रार देते हुए उनको अंडमान स्थित सेल्युलर जेल भेज दिया । अंडमान जेल में ब्रिटिश शासन के दमन पर विजय हासिल कर सावरकर देश के स्वतंत्रता में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।सावरकर के जीवन के इस पक्ष के बारे में भारतीय इतिहास में पर्याप्त चित्रण नहीं है । इसीलिए यह कार्यक्रम बहुत ही प्रासंगिक है ।


एबीवीपी जेएनयू के अध्यक्ष दुर्गेश कुमार ने बताया कि इस कार्यक्रम को लेकर लेकर यहाँ के छात्रों में बहुत उत्साह है । जेएनयू में पहले जहाँ राष्ट्रवाद और भारत के मूल विचारों पर चर्चा नही होती थी, विद्यार्थी परिषद के प्रयास के कारण यहाँ पर अब राष्ट्रवाद व भारतीय विचारों पर बात होने लगी है, ऐसे समय मे राष्ट्रवीर सावरकर जी के जीवन पर नाटक का मंचन होने से राष्ट्रीय विचारों को जेएनयू परिसर में बढ़ाने का बल मिलेगा ।


एबीवीपी जेएनयू के सेक्रेटेरी मनीष जांगिड का मानना है कि इस कार्यक्रम सेे छात्र समुदाय को सावरकर जी के बारे में लोगों की समझ में वृद्धि होगी तथा देश के लिए कार्य करने व भारत के मूल विचारों को बढाने के लिए प्रेरणा मिलेगा ।

©Newziya 2019, New Delhi.