• Newziya

वाराणसी में दिनदहाड़े ठेकेदार की गोली मारकर हत्या, सीबीआई जांच की मांग

Updated: Oct 22, 2019

उत्तर प्रदेश में आए दिन हत्या की खबरें सामने आ रही हैं. जहां एक और सूबे के मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश में सुशासन की बात करते हैं. वहीं दूसरी ओर प्रदेश में इस तरह की घटनाएं सरकार की नीतियों पर सवालिया निशान खड़ा करती हैं.

इससे साफ पता चलता है कि अपराधियों के अंदर से शासन और प्रशासन का डर खत्म होता जा रहा है.



हाल ही में वाराणसी के सदर तहसील में फार्च्यूनर सवार ठेकेदार बबलू सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मिली जानकारी के अनुसार पल्सर से आये बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर बबलू के शरीर में सात गोलियां उतार दी. बबलू के पास भी पिस्टल थी लेकिन उसे निकालने तक का मौका नहीं मिला. जिला मुख्यालय से सटे तहसील परिसर में सनसनीखेज वारदात की सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया.


स्थानीय पुलिस के साथ ही आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए. पुलिस हत्या के कारणों की पड़ताल में जुटी है. मृतक आशापुर के पास स्थित लोहिया नगर में रहता था. हाल ही में वाराणसी के सदर तहसील में फार्च्यूनर सवार ठेकेदार बबलू सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मिली जानकारी के अनुसार पल्सर से आये बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर बबलू के शरीर में सात गोलियां उतार दी. बबलू के पास भी पिस्टल थी लेकिन उसे निकालने तक का मौका नहीं मिला.  जिला मुख्यालय से सटे तहसील परिसर में सनसनीखेज वारदात की सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया. स्थानीय पुलिस के साथ ही आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए. पुलिस हत्या के कारणों की पड़ताल में जुटी है. मृतक आशापुर के पास स्थित लोहिया नगर में रहता था.


मृतक बबलू सिंह फार्च्‍यूनर गाड़ी (यूपी 32 ईई 0900) से तहसील सदर पहुंचे थे. जिसके बाद पल्‍सर सवार दो युवक मौके पर पहुंचे. एसडीएम सदर कार्यालय के सामने पल्‍सर सवार युवकों ने इस वारदात को अंजाम दिया. बबलू की फॉर्चुयनर बुलेटप्रूफ थी. बबलू जैसे अपने गाड़ी में बैठने की कोशिश करने लगे वैसे ही बदमाशों ने उन पर गोलियां चला दी. नितेश उर्फ बबलू को कुल छह गोलियां लगी और मौके पर ही उन्होंने दम तोड़ दिया.


मृतक बबलू सिंह का परिवार इस हत्याकांड में सीबीआई जांच की मांग कर रहा है. परिवार का कहना है कि सीबीआई जांच से इस हत्याकांड की गुत्थी सुलझ सकती है. अब देखने वाली बात यह रहेगी कि क्या शासन और प्रशासन इस घटना से सीख लेकर अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजता है या फिर इसी तरह की और भी घटनाओं के होने का इंतजार करता है.





262 views

©Newziya 2019, New Delhi.