• Newziya

एक नही 5 बूथों पर होगा अब EVM-VVPAT का मिलान

सुप्रीम कोर्ट ने 21 विपक्षी पार्टियों द्वारा 50 फ़ीसदी VVPAT पर्चियों के EVM से मिलान किये जाने वाले याचिका पर सुनवाई करते हुए इस माँग को अव्यवहारिक करार दिया, लेकिन चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई ने इस याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश दिया कि अब हर विधानसभा क्षेत्र में EVM से VVPAT प्रकिया को 5 गुना बड़ा दिया। अर्थात जहाँ पहले एक विधानसभा क्षेत्र बस 1 EVM का VVPAT की पर्चियों मिलान होता था, अब 5 EVM का VVPAT की पर्चियों से मिलान होगा। चीफ़ जस्टिस ने कहा कि यह आदेश हम मतदाताओं के विश्वास और चुनाव प्रक्रिया की विश्वसनीयता को ध्यान में रखकर दे रहे हैं।


आपको बता दे अभी हाल ही में हुए चुनावों में 4125 EVM का मिलान VVPAT से हुआ है अब लगभग यह संख्या बढ़कर 20625 हो जाएगी।


VVPAT


हालाकि लोकसभा 2019 के प्रथम चरण के चुनाव से ठीक 3 दिन पहले शीर्ष कोर्ट का यह फैसला चुनाव आयोग के कार्यों को थोड़ा और बढ़ा देगा क्योंकि EVM और VVPAT के मिलान को जितना बढ़ाया जाएगा तो पर्चियों की संख्या भी बढ़ेगी, ज्यादा गिनती में गलती की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है क्योंकि इन पर्चियों की गिनती किसी मशीन से नही बल्कि मानवीय तरीके से ही होती है। और इस प्रकिया को बढ़ाने से और जटिलता बढ़ेगी।


कोर्ट के फैसले के बाद सुप्रीम कोर्ट के आदेश को सर्वोच्च मानते हुए चुनाव आयोग जल्द ही आदेश को सुनिश्चित करेगा।

-Vishwajeet Maurya

©Newziya 2019, New Delhi.